Saturday, October 23, 2021

Add News

Korona

क्या दवाई नहीं, ढिलाई नहीं के बीच अनिश्चितकालीन लॉकडाउन से कोविड संक्रमण दूर हो जायेगा?

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अप्रैल के तीसरे हफ्ते में राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान यह कहा था कि फिलहाल देश में लॉकडाउन नहीं लगने जा रहा। देश को लॉकडाउन से बचाना है, यह आखिरी विकल्प होना चाहिए। उत्तर...

कोविड ग्रस्त इंसानी जिंदगियों के अनूठे तरीके से रहबर बने नगालैंड के कोन्याक

इस कोविड महामारी के दौरान नगालैंड के मोन जिले में रहने वाले 39 वर्षीय होंगनाओ कोन्याक ने अपनी एम्बुलेंस से सैकड़ों लोगों की जान बचाई। इस अभूतपूर्व लॉकडाउन के दौर में अपनी निजी गाड़ी को एक कामचलाऊ एम्बुलेंस में...

लाल किले से: सपनों के सबसे शातिर सौदागर हैं पीएम मोदी

इस सच इंकार से करना तथ्यों से मुंह मोड़ना होगा कि नरेंद्र मोदी हमारे समय में सपनों के सबसे शातिर सौदागर हैं। इस मामले में उनके सामने दुनिया का कोई नेता नहीं ठहरता है। वे अतीत की अपनी सारी...

दुनिया के पांच कट्टर दक्षिणपंथी शासित देश ही क्यों हैं कोरोना से सबसे ज्यादा प्रभावित

कोविड-19 संक्रमितों की संख्या के लिहाज से दुनिया के पांच सबसे ज्यादा प्रभावित देश हैं- यूएसए, ब्राजील, रूस, भारत और ब्रिटेन। इन पांचों देशों में कट्टरवादी दक्षिणपंथी पार्टियां सत्ता में हैं। अमेरिका दुनिया में कोरोना से सबसे बुरी तरह...

सारे अधिकार स्थगित हो सकते हैं, लेकिन जीवन का नहीं

नोवेल कोरोना वायरस कोविड-19 महामारी, जहां देश में स्वस्थ लोगों के लिये परेशानी का सबब बनी हुई है, तो वहीं जो लोग दीगर बीमारियों से पीड़ित हैं, उन्हें भी इस बीमारी ने दर-दर की ठोकरें खाने पर मजबूर कर...

क्या फेक वेंटिलेटर्स के चलते राष्ट्रीय दर से दोगुना है गुजरात में कोविड-19 मुत्युदर

यदि कोई कोविड-19 संक्रमित है और गुजरात में है तो उसके मरने की आशंका दिल्ली, महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, राजस्थान जैसे राज्यों की तुलना में कई गुना ज्यादा है ये हम नहीं आंकड़े बोल रह हैं। गुजरात में पिछले 24 घंटों में...

रूपानी सरकार पर जमकर बरसा गुजरात हाईकोर्ट, कहा- कालकोठरी से भी बदतर है अहमदाबाद सिविल अस्पताल

नई दिल्ली। कोरोना मामले में आपराधिक लापरवाही को लेकर गुजरात हाईकोर्ट ने रूपानी सरकार को जमकर लताड़ लगायी है। कोर्ट ने कहा कि सरकार कृत्रिम तरीक़े से महामारी को नियंत्रित करने की कोशिश कर रही है। इसके साथ ही...

डायरी: कोरोना काल की कत्लगाहें

सिर्फ भारत के आंकड़ों पर गौर करते हैं। कोरोना वायरस को विधिवत केंद्रीय हुकूमत ने जब 'महामारी' मानकर लॉक डाउन घोषित किया तो चंद दिनों में बेरोजगारी दर 23 फ़ीसदी आ गई और मजदूर दिवस यानी 1 मई तक...

नापसन्द था नेहरू वाला फंड तो उसका नाम बदल देते, फ़ालतू में नये फंड की नौटंकी क्यों?

कोरोना वायरस परिवार के नये सदस्य कोविड-19 के जन्म और संक्रमण से पनपी वैश्विक आपदा की चुनौतियों के लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की अगुवाई में 28 मार्च 2020 को PM CARES (Prime Minister’s Citizen Assistance and Relief in Emergency...

अंबेडकर जयंती पर विशेष: कोरोना संकट के दौर में दलित परिदृश्य

2011 की आर्थिक एवं जाति जनगणना के अनुसार भारत के कुल परिवारों में से 4.42 करोड़ परिवार अनुसूचित जाति (दलित) से सम्बन्ध रखते हैं। इन परिवारों में से केवल 23% अच्छे मकानों में, 2% रहने योग्य मकानों में और...
- Advertisement -spot_img

Latest News

कहर साबित हुई उत्तराखंड में बेमौसम बारिश

अत्यधिक वर्षा, भूस्खलन और तबाही, जलवायु परिवर्तन के लक्षण साफ हैं। पर हम जलवायु-परिवर्तन को लेकर बड़ी-बड़ी बातें करते...
- Advertisement -spot_img