Wed. Jan 29th, 2020

नागरिकता बिल संविधान के समानता और धार्मिक गैर-भेदभाव के शाश्वत सिद्धांतों का अपमानः सोनिया गांधी

1 min read

नागरिकता बिल पारित होने के बाद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी का सार्वजनिक बयान….

आज का दिन भारत के संवैधानिक इतिहास में एक काले दिन के रुप में याद किया जाएगा। नागरिकता संशोधन विधेयक के पारित होने से भारत की बहुलता पर संकुचित सोच और कट्टरवादी ताकतों की जीत हुई है। यह विधेयक भारत के विचार को मूल रूप से चुनौती देता है, जिसके लिए हमारे पूर्वजों ने संघर्ष किया और उसके स्थान पर एक ऐसे अशांत, विकृत और विभाजित भारत का निर्माण करता है, जहां धर्म राष्ट्रीयता का निर्धारक बन जाएगा।

देश दुनिया की अहम खबरें अब सीधे आप के स्मार्टफोन पर Janchowk Android App

नागरिकता संशोधन विधेयक हमारे संविधान में निहित समानता और धार्मिक गैर-भेदभाव के शाश्वत सिद्धांतों का न केवल अपमान है, बल्कि भारत के उस मूल भाव  को चकनाचूर करता है, जिसमें यह निश्चित था कि हमारा देश किसी धर्म, क्षेत्र, जाति, पंथ, भाषा या जातीयता के भेदभाव के बिना सभी लोगों के लिए एक स्वतंत्र राष्ट्र होगा। इस बिल के अंदर गंभीर निहितार्थ छुपे हैं। यह त्रुटिपूर्ण कानून अपने मौजूदा स्वरूप में स्वतंत्रता आंदोलन से जनित संबद्ध भावनाओं और हमारे राष्ट्र की आत्मा का विरोधी है।

हमारे देश ने ऐतिहासिक रूप से हमेशा सभी राष्ट्रों और धर्मों के उत्पीड़ितों को शरण और सुरक्षा प्रदान की है। हम एक ऐसे गौरवशाली  राष्ट्र हैं, जो कभी किसी चुनौती के समक्ष विवश नहीं हुए, क्योंकि हम हमेशा इस ज्ञान के साथ दृढ़ रहे हैं कि मुक्त भारत तभी स्वतंत्र रह सकता है जब उसके लोग आजाद हों। उनकी आवाज सुनी जाए, हमारी संस्थाएं, सरकारें और राजनीतिक ताकतें अपने आप को देश के नागरिकों के अक्षम अधिकारों को सुरक्षित रखने के लिए समर्पित रखें।

यह विडंबना ही है कि विधेयक को ऐसे समय में पास करवाया गया है, जब हमारा देश और वास्तव में पूरी दुनिया राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 15वीं जयंती मना रही है। मैं पीड़ा के इस क्षण में भाजपा के खतरनाक विभाजनकारी और ध्रुवीकरण के एजेंडे के खिलाफ इस संघर्ष में जुटे रहने के कांग्रेस पार्टी के दृढ़ संकल्प को दोहराना चाहूंगी।

Donate to Janchowk
प्रिय पाठक, जनचौक चलता रहे और आपको इसी तरह से खबरें मिलती रहें। इसके लिए आप से आर्थिक मदद की दरकार है। नीचे दी गयी प्रक्रिया के जरिये 100, 200 और 500 से लेकर इच्छा मुताबिक कोई भी राशि देकर इस काम को आप कर सकते हैं-संपादक।

Donate Now

Scan PayTm and Google Pay: +919818660266

Leave a Reply