Tuesday, February 7, 2023

indian

ऋषि सुनक और हमारी संकीर्ण राष्ट्रवादी सनक

ऋषि सुनक ब्रिटेन के प्रधान मंत्री बन गए हैं। निश्चित रूप से भारतीयों के लिए खुशी का सबब है। जिस देश ने हमें गुलाम बनाया उसी देश का प्रधान भारतीय मूल का व्यक्ति बने यह मनोवैज्ञानिक दृष्टि से एक...

भारतीय समाज में अवैज्ञानिक परंपरा का साइकोपैथ अवशेष

उच्चतर डिग्री हासिल करके पढ़ा-लिखा होना इस बात का सुबूत नहीं बन जाता कि हम जागरूक भी हैं। जागरूकता तो उस थॉट प्रोसेस से होकर किसी तार्किक निष्कर्ष पर पहुंच पाने से हासिल होती है। पढ़ाई-लिखाई इसमें सहायक हो...

स्मृति दिवस पर विशेष: उदयशंकर ने भारतीय नृत्य और संगीत को दिया वैश्विक फ़लक

देश में उदयशंकर की पहचान भारतीय नृत्य और संगीत को वैश्विक फ़लक पर स्थापित करने वाले एक अद्भुत कलाकार की है। जिन्होंने अपनी पूरी ज़िंदगी नृत्य के लिए समर्पित कर दी। जब देश परतंत्र था, तब उन्होंने भारतीय शास्त्रीय,...

आखिर मोदी जर्मनी में भारतीयों को क्या बताना भूल गए?

पीएम मोदी मई, 2022 की शुरुआत में ही जर्मनी में थे। बर्लिन में उन्होंने भारतीय भाइयों से मुलाकात की और सम्बोधित भी किया। उनको बताया कि नया भारत, उदित होता भारत कैसा लगता है। उन्होंने कहा कि भारत स्वर्णिम...

भारतीय गणतंत्र : कुछ खुले-अनखुले पन्ने

भारत को ब्रिटिश हुक्मरानी के आधिपत्य से 15 अगस्त 1947 को राजनीतिक स्वतन्त्रता प्राप्ति के 894 दिन बाद 26 जनवरी 1950 को गणराज्य घोषित किया गया। तब राजधानी नई दिल्ली में कनाट प्लेस के पार्श्व में तत्कालीन इर्विन स्‍टेडियम...

भारतीय गणतंत्र पर छाया संकट का घटाटोप

भारतीय गणतंत्र की स्थापना का 73वां शुरू होने जा रहा है। किसी भी राष्ट्र या गणतंत्र के जीवन में सात दशक की अवधि अगर बहुत ज्यादा नहीं होती है तो बहुत कम भी नहीं होती। इसमें कोई दो राय...

प्रवासी भारतीयों के 28 संगठनों ने भी कहा- हरिद्वार हेट कान्क्लेव के जहरीले वक्ताओं को गिरफ्तार करो

प्रवासी भारतीयों के 28 वैश्विक संगठनों के एक समूह द्वारा हरिद्वार में हुये तीन दिवसीय हेट कान्क्लेव के ख़िलाफ़ एक संयुक्त बयान जारी करके उसकी निंदा की गई है। इन लोगों में हिंदू, मुस्लिम, सिख और ईसाई समुदायों के...

चीन की लगातार चुनौती पर भारत सरकार की शर्मनाक चुप्पी

लद्दाख में घुसपैठ कर कई चोटियों पर कब्जा कर लेने के बाद चीन के हौसले बुलंदी पर हैं। अब वह अरुणाचल प्रदेश में अपनी कारस्तानी से भारत की संप्रभुता को चुनौती दे रहा है। वह पहले से कहता रहा...

भारतीय समाज को एकरंगा बनाने की कोशिश बेहद खतरनाक

वाराणसी। तीन दिनों बाद 'प्रशिक्षकों के प्रशिक्षण' शिविर के समापन पर उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों से आये कार्यकर्ता इस नारे के साथ अपने घरों को लौट गये कि 'हम होंगे कामयाब एक दिन, मन में है विश्वास...'। साझी...

भारतीय कृषि के खिलाफ साम्राज्यवादी साजिश को शिकस्त

भारतीय किसानों ने मोदी सरकार को तीनों कृषि कानून वापस लेने के लिए  बाध्य कर दिया। ये किसानों की जीत न केवल दुनिया के पैमाने पर अनोखी जीत है बल्कि तय है कि यह जीत दुनिया भर में पिछले...

Latest News

जमशेदपुर में धूल के कणों में जहरीले धातुओं की मात्रा अधिक-रिपोर्ट

मेट्रो शहरों में वायु प्रदूषण की समस्या आम हो गई है। लेकिन धीरे-धीरे यह समस्या विभिन्न राज्यों के औद्योगिक...